Cryptocurrency 2020 कैसे काम करती है और यह कितने प्रकार की होती है।

Cryptocurrency 2020 – यह एक Digital currency है इस करेंसी को बनाने के लिए Encrypted technique का इस्तेमाल किया गया है। जिसकी सहायता से हम currency के Unit को आसानी से Regulate कर सकते है और इस encrypted के द्वारा Cryptocurrency के transaction में Transparency लाईं जाती है।

आज के समय में हर कोई Online पैसे इस्तेमाल करते है ज़ैसे Online Net Banking और Online shopping क़े लिए आदि। इसके अलावा आप Online कामों के लिए Credit Card और Debit Card का भी इस्तेमाल करते हों। अगर अपको कुछ पैसों का लेन-देन करना हो तो आपके खाते में पैसे जमा होना ज़रूरी है तभी आप Transaction कर सकते है।

लेकिन Crypto currency में ऐसा कुछ भी भी है यह एक Digital currency है और इसी आपक़ो ख़रीदना पड़ता है तब इस करेंसी के द्वारा आप कोई भी Digital Transaction कर सकते है। आज के समय में दुनिया में बहुत सारी cryptocurrency (2020) है जैसे भारत में Jiocoin है।

Cryptocurrency 2020 कैसे काम करती है

Cryptocurrency 2020 के लेन-देन के लिए Peer-to-peer Technique का इस्तेमाल किया जाता है। जिसकी सहायता से ये पैसे एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में सीधे पहुँच जाते है। यह सारा काम एक Blockchain क़े द्वारा होता है। जैसे हमारे पैसों का हिसाब बैंक रखता है वैसे ही ये Blockchain हर currency का हिसाब रखते है। मतलब दुनिया में कही भी किसी भी जगह पर हुआ लेन-देन का हिसाब ये Blockchain करता है और साथ में यह उसे Verify भी करता है।

जिससे इसमें धोखाधड़ी बहुत कम होती है। इसलिए लाखों लोग इसे सुरक्षित मानते है। कुछ लोग इन Currency को सफलतापूर्वक लेन-देन के लिए Powerful Computers का इस्तेमाल करते है। और उस लेन-देन कि verify भी करते है जिसके लिए उन्हें इनाम के तौर पर कुछ Bitcoin दी जाती हैं जिससे उस bitcoin की माइनिंग कहा जाता है।

वैसे हज़ारों लोग इस cryptocurrency के लेन- देन को verify करने के लिए बैंक के एक क्लर्क की तरह काम करते है जिन्हें माइनर्स कहा जाता है। ये माइनर्स इस cryptocurrency के लेन-देन पर नज़र रखते है जिससे कही इनका ग़लत इस्तेमाल ना हो जाए। इस प्रक्रिया को पुरी करने के लिए इन माइनर्स को एक mathematics के problem को solve करना है जो माइनर्स इस Problem जितनी जल्दी solve करता है उससे इनाम के तौर पर 12.5 Bitcoin मिलते है। और इसी process के द्वारा ये करेंसी Digital market में आ जाती है।

ये भी पढ़ें –  Cryptocurrency क्या है इसके फ़ायदे और नुक़सान क्या है 2020

Cryptocurrency 2020 के कितने प्रकार है

वैसे तो दुनिया में हज़ारों cryptocurrency है। लेकिन हम कुछ Popular करेंसी के बारे में बताएँगे। जिन्हें आप इस्तेमाल कर सकते है।

  • Ethereum (ETH)
  • Bitcoin ( BTC)
  • Ripple ( XRP)
  • Litecoin ( LTC)
  • Peercoin ( PPC)
  • Dash ( DASH)
  • Faircoin ( FAIR)
  • Dogecoin (Doge)

1. Ethereum ( ETH)

Ethereum currency को 2015 में Launched किया गया है। यह एक Open-source , Blockchain-based, Decentralized software Platform है। Ethereum को Ether भी कहते है। Ethereum क़े Co-Founder Vitalik Buterin है जो एक Bitcoin Programmer और writer है। यह Etherum currency बहुत प्रसिद्ध हों गईं है Bitcoin क़े बाद इसका ही नाम आता है।

2. Bitcoin

Bitcoin जनवरी 2009 में Housing market crash के बाद बनाई गई एक डिजिटल मुद्रा है। यह सातोशी नाकामोटो द्वारा बनाई गई मुद्रा है जिसने इस तकनीक का निर्माण किया है, लेकिन इस व्यक्ति की पहचान अभी भी एक रहस्य है। Bitcoin पारंपरिक Online Payment की तुलना में कम लेनदेन शुल्क का वादा करता है और सरकार द्वारा जारी मुद्राओं के विपरीत, एक Decentralized Authority द्वारा संचालित होता है।

यह कोई Physical Bitcoin नहीं हैं, केवल एक सार्वजनिक बहीखाता पर रखी गई शेष राशि जो सभी के लिए पारदर्शी है, वह सभी बिटकॉइन लेनदेन के साथ – कंप्यूटिंग शक्ति की एक विशाल मात्रा द्वारा सत्यापित है। बिटकॉइन किसी भी बैंक या सरकारों द्वारा जारी या समर्थित नहीं हैं, और न ही व्यक्तिगत बिटकॉइन कमोडिटी के रूप में मूल्यवान हैं। बिटकॉइन चार्ट लोकप्रियता पर उच्च हैं, और सैकड़ों अन्य Virtual Currencies के लॉन्च को Triggerd किया है जिन्हें सामूहिक रूप से Altcoins के रूप में जाना जाता है।

3. Ripple

Ripple एक ऐसी तकनीक है जो Financial Transactions के लिए Cryptocurrency और Digital Payment नेटवर्क दोनों के रूप में कार्य करती है। इसे पहली बार 2012 में रिलीज़ किया गया था जिसके Co-founded क्रिस लार्सन और जेड मैककलेब है।

XRP एक डिजिटल संपत्ति है जिसे भुगतान के लिए बनाया गया है। यह XRP लेजर पर मूल डिजिटल संपत्ति है- एक Open-source, Permissionless और Decentralized Blockchain Technology है जो 3-5 सेकंड में Transaction को settle कर सकती है।

4. Litecoin

Litecoin एक Peer-to-peer Cryptocurrency है। यह MIT / X11 लाइसेंस के तहत जारी एक Open-Source Software Project है, जिसका अर्थ है कि यह केवल इसके पुन: उपयोग पर बहुत सीमित प्रतिबंध लगाता है। Bitcoin के समान, लिटकोइन के कई मायनों है, क्योंकि इसे डिजिटल मुद्रा और डिजिटल भुगतान प्रणाली भी माना जाता है। इसके अतिरिक्त, Litecoin encryption तकनीकों का उपयोग दो महत्वपूर्ण विशेषताओं के लिए किया जाता है:

  • Litecoin unit की Generation को Regulate करने के लिए
  • धन के Transfer और Secure transaction को verify करने के लिए

5. Peercoin

Peercoin एक Cryptocurrency है जिसे 2012 में लॉन्च किया गया था। इस Peercoin को किसी भी बैंक, या Bitcoin, Dash, Litecoin, और अन्य क्रिप्टोकरेंसी के बहुमत की तरह बिना किसी Central Authority के इंटरनेट पर भेजा जा सकता है। Peercoin को सबसे अलग बनाने के लिए इसका Hybrid तरीका mining से है, जो हमें एक सेकंड में मिल जाता है।

Market cap द्वारा Peercoin दुनिया की 190 वीं सबसे बड़ी Cryptocurrency है, यही वजह है कि ज्यादातर लोगों ने इसके बारे में कभी नहीं सुना। CoinMarketCap के अनुसार, प्रचलन में Peercoins का कुल मूल्य लेखन के समय लगभग $ 57 मिलियन है। लेकिन Bitcoin का Market cap $ 130 बिलियन से अधिक है।

6. Dash

Dash एक Open source cryptocurrency है। यह एक altcoin है जिसे Bitcoin Protocol से forked किया गया था। यह एक Decentralized Autonomous Organization (DAO) भी है, जो अपने उपयोगकर्ताओं के एक उपसमूह द्वारा चलाया जाता है, जिसे “Masternodes” कहा जाता है।

Dash को 2014 में लॉन्च किया गया था, Dash को मूल रूप से Darkcoin के रूप में जाना जाता था और इसे उपयोगकर्ता की गोपनीयता और गुमनामी सुनिश्चित करने के लिए डिज़ाइन किया गया था। इसे ‘Nakamoto’ के काम के आधार पर “पहली गोपनीयता केंद्रित क्रिप्टोग्राफिक मुद्रा” के रूप में वर्णित करता है।

हालांकि यह अभी भी मजबूत एन्क्रिप्शन सुविधाएँ प्रदान करता है, डैश ने अपनी महत्वाकांक्षाओं को फिर से प्राप्त किया है। अब Cryptocurrency का उद्देश्य दैनिक लेनदेन के लिए एक माध्यम बनना है। “डैश डिजिटल कैश है जिसे आप कहीं भी खर्च कर सकते हैं,” इसकी वेबसाइट साहसपूर्वक घोषणा करती है।

Dash दुनिया की 12 वीं सबसे मूल्यवान क्रिप्टोक्यूरेंसी है। 2017 में, क्रिप्टोकरेंसी के बढ़ते मूल्यों के बीच इसकी कीमत 8,000% से अधिक हो गई थी।

7. Faircoin

Faircoin एक innovative Blockchain Technology है, जो Bitcoin और सबसे अधिक AltCoins से बेहतर प्रदर्शन करती है इसके लिए कम ऊर्जा की आवश्यकता होती है, तेजी से लेनदेन होता है और बहुत कम शुल्क का Redistributing कर रहा है।

Faircoin एक Decentralized cryptocurrency है जिसे मुख्य रूप से FairCoop ecosystem द्वारा अपनाया गया है। इसका उद्देश्य अपनी अंतर्निहित तकनीक के कारण केंद्रीय बैंकों, वित्तीय संस्थानों और सरकारों से स्वतंत्रता प्रदान करके पारिस्थितिकी तंत्र के लिए एक शक्तिशाली उपकरण है। अन्य क्रिप्टोकरेंसी की तुलना में, जैसे कि बिटकॉइन, इसका मूल्य स्थिर है और अक्सर आम सहमति से समुदाय से समायोजित किया जाता है।

Faircoin केवल वैश्विक मूल्यों और सिद्धांतों के साथ वैश्विक और स्थानीय समुदायों के लिए विनिमय का साधन नहीं है, बल्कि एक प्रमुख उपकरण है, जिस पर FairCoop संपूर्ण Economic system का आधार है।

8. Dogecoin

Dogecoin एक Peer-to-peer, Open-source cryptocurrency है। यह एक altcoin और लगभग एक sarcastic meme coin माना जाता है। जबकि यह एक मजाक के रूप में प्रतीत होता है, इसके Blockchain में अभी भी योग्यता है।

Dogecoin को दिसंबर 2013 में लॉन्च किया गया था। इसकी underlying technology Litecoin से ली गई है। इसका बाजार पूंजीकरण $ 500 मिलियन से कम है, और CoinMarketCap द्वारा दी गई इसकी Market Cap Rank 26 है।

Share जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe to Daily update

* indicates required
DMCA.com Protection Status Scroll to Top